5.6.31 Welcome to CGNet Swara

मेरा कुंआ 2011 में पास हुआ, पैसा आज तक नहीं मिला, जिन्होंने खोदा उनको भी पैसा नहीं मिला...

ग्राम-भेंडरी, जनपद-राजपुर, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से शिवलाल यादव बता रहे है कि 2011 में उनको कुंआ खुदवाने के लिए मदद पास हुआ था उसका पैसा आज तक नहीं मिला है | उसकी शिकायत उन्होंने जनपद C.E.O, कलेक्टर एवं शिविर लगा था वहां पर भी किये थे लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुआ, कोई जांच भी नहीं हुआ और उसमे लगभग 25-30 लोगो ने काम किये थे उनको भी पैसा मिलना चाहिए इसलिए साथी सीजीनेट सुनने वाले साथियों से मदद की अपील कर रहे है कि इन अधिकारियो से कर उनका पैसा दिलवाने में मदद करें : सरपंच@8223967201, सचिव@9617079335, C.E.O.@8965080888. शिवलाल यादव@9669148629.

Posted on: Nov 22, 2017. Tags: SHIVLAL YADAV

Today's News from newspapers in Gondi: 22nd Nov 2017 -

नई दिल्ली : अगले साल दुनिया में आ सकते हैं बड़े भूकंप, धरती के घूमने की रफ्तार कम हुई – दैनिक भास्कर न्यूज़ – मध्यप्रदेश,बेड़िया : गलत नीतियों के कारण ठगे जा रहे आदिवासी किसान
बेड़िया। – नईदुनिया न्यूज – मध्यप्रदेश,खरगोन: आदिवासी संस्कृति को बचाएं लेकिन अंधविश्वास करें दूर
खरगोन – नईदुनिया न्यूज – छत्तीसगढ़,बिलासपुर : 50 किमी यात्रा कर भी राशन नहीं मिलता, बस कहने को संरक्षण प्राप्त हैं बैगा आदिवासी – अमर उजाला – जगदलपुर : हजारों परिवारों का पेट भर रही लाल चींटे-चींटियों की चटनी

Posted on: Nov 22, 2017. Tags: GONDI NEWS RAMESH KUNJAM

ना दे परदेश की रोटी मेरा आंगन मुझे दे दो...गजल -

पुरखोली लालगंज, मुज्जफरपुर (बिहार) से मुन्ना मिश्र व्यास एक गजल सुना रहे हैं :
ना दे परदेश की रोटी मेरा आंगन मुझे दे दो – जवानी देने वाले तू मेरा बचपन मुझे दे दो –
कुवारा पन भी रह जाए मेरी शादी भी हो जाए – जिसे सब मौत कहते हैं वही दुल्हन मुझे दे दो – कलाई थामने की याद को तजा ही रखना है
तू अपने हाँथ का टूटा हुआ कंगन मुझे दे दो
जब मुझसे हो सकेगा तुझसे से मिलने आऊंगा मिलने एक दिन...

Posted on: Nov 22, 2017. Tags: SUNIL KUMAR

करोंदा बैला छोटे-छोटे...दो बैल करोंदा और छौना और प्रेम और बालो राजा और रानी की कहानी-

ग्राम-देवरी, जिला-सूरजपुर (छतीसगढ़) से कैलाश सिंह पोया उनके इलाके से एक ग्रामीण लोक कहानी सुना रहे हैं ये बता रहे हैं कि मंडला जिले में एक प्रेम नाम के राजा रहते थे अमरकंटक उनका जन्म स्थान था वे कई सालो से वहां शासन कर रहे थे एक दिन उनकी रानी बालो ने उन्हें खेतो में हल चलाने के लिए कहा जिस पर वे दो बैल करोंदा और छौना को लेकर खेत चले गए उसके बाद दोपहर में वहां पर रानी चेच भाजी लेकर आती है और एक गीत गाती है हाय रे करोंदा बैला छोटे-छोटे...इसके बाद वे दोनों बैलो को छोड़ देते हैं तब दोनों बैल जंगल में गुम हो जाते हैं और बहुत ढूढने पर भी नहीं मिलते जिससे रानी बहुत दुखी होती हैं | कैलाश सिंह पोया@9575922217.

Posted on: Nov 22, 2017. Tags: KAILASH SINGH POYA

वह शक्ति हमे दो दयानिधे, कर्तव्य मार्ग पर डट जावें...प्रार्थना गीत -

जिला-बड़वानी (मध्यप्रदेश) से सुरेश कुमार एक गीत सुना रहे हैं :
वह शक्ति हमे दो दयानिधे-
कर्तव्य मार्ग पर डट जावें-
पर सेवा पर उपकार में हम-
निज जीवन सफल बना जावें-
वह शक्ति हमे दो दया निधे...

Posted on: Nov 22, 2017. Tags: SURESH KUMAR

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »