अड़मापारा, कोडेनार से आयते अपने खेती का तरीका बता रही हैं...

अड़मापारा, ग्राम पंचायत- कोडेनार, ब्लाक- बास्तानार, जिला बस्तर (छत्तीसगढ़) से आयते बता रही हैं कि उन्होंने अभी खेत में धान बोए हैं। उसके बाद घर के बाड़ी में मक्का बोने का सोच रहे हैं। कुछ दिन के बाद वे धान में घास खीचेंगे। फिर मई-जून के महीने में धान कटाई करेंगे। फिर जैसे गर्मी का मौसम आता है तो काम भी बदलता जाता है।

Posted on: Sep 14, 2021. Tags: AAYTE ADMAPARA AGRICULTURE BASTANAR BASTAR CG FARMING KODENAR STORY

खेती में धान, जोंदरा, कोसरा लगाते है, गर्मी के समय में पानी का साधन नहीं है, दूसरा फसल नहीं लगाते है...

ग्राम-मारसडरा, ब्लाक-बस्तानर, जिला-बस्तर ( छत्तीसगढ़) से बाबूलाल नेटी के साथ हिमेश कुमार सेठिया बता रहे है कि उनके गाँव 4 मोहल्ले है और सभी जाति के लोग रहते है और खेती पर ही ज्यादा निर्भर रहते है | खेत में धान, जोंदरा, कोसरा और दलहन में उड़द, राहर, हरवा लगाते है | गर्मी के समय में पानी का साधन नहीं होने के कारण दूसरा फसल नहीं होता है | मजदूरी के ऊपर निर्भर रहते है | अस्पताल गाँव में ही है और स्कूल 8वी तक है | उनके यहाँ जंगल भी है उसमे तेंदू, चार, बेलवा, महुआ होता है | महुआ का बहुत सारी चीजो में उपयोग किया जाता है | संपर्क नंबर@8103481510.

Posted on: Aug 30, 2021. Tags: AGRICULTURE BASTANAR BASTAR CG HIMESH SETHIYA STORY

बस्तर के इलाके में माटी त्योहार के बाद ही आम खाने की परंपरा है-

ग्राम-नागलसर, विकासखण्ड-दरभा, जिला-बस्तर (छत्तीसगढ़) के लईकल नाग और मंगल साय माटी त्यौहार के बारे में बता रहे हैं| यह साल के एक बार आता है| उस त्योहार के बाद ही गांव में आम खाने की परंपरा है| वे कई पीढियों से उस त्योहार को मनाते आ रहे हैं| त्योहार को पूजा पाठ कर मनाते है| यह बस्तर का एक पारंपरिक त्योहार है|

Posted on: Jul 22, 2021. Tags: BASTAR CG DARBHA MANGALSAY STORY

रेत और चिन्नी कि मिश्रण...कहानी-

जिला-येमदनगर (महाराष्ट्र) से नरेन्द्र हरारे एक कहानी सुना रहे हैं, रेत और चिन्नी
बादसाह अख़बर के दरबार में एक व्यक्ति आया और उसके हाथों में एक बड़ा सा बर्तन था एक बच्चा ने पूछा इस बर्तन में क्या है, उसने बोला ये महाराज इस बर्तन में रेत और चिन्नी का मिश्रण हैं| मेने सुना हैं आपके दरबार में बहुत लोग बुद्धिमान हैं| फिर बोला मै चाहता हूँ| सारे मंत्री रेत और चिन्नी को अलग करे बिना पानी डाले सारे मंत्री सोच में पड़ गयें| बीरबल ने कहा ठीक है, और बर्तन ले गया| और बर्तन में चिट्टी को रख दिया| और चिन्नी को चिट्टी सारे चिन्नी अलग कर दियें| फिर उनका बहुत तारीफ कियें...

Posted on: Jul 06, 2021. Tags: MH NARENDRA HRARE STORY YEMDNAGR

कहानी : काले गोरे का भेद...

राजनांदगांव, छत्तीसगढ़ से वीरेन्द्र गंधर्व एक कहानी सुना रहे हैं, जिसका शीर्षक है,”काले गोरे का भेद ” | अपने संदेश रिकॉर्ड करने के लिये 08050068000 पर मिस्ड कॉल कर सकते हैं|

Posted on: Jul 04, 2021. Tags: CG RAJNANDGAON STORY VIRENDRA GANDHARV

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download