5.6.31 Welcome to CGNet Swara

लेहरी-लेहरी बाजे से मोहरी चंपा मगरा चो जोड़ी...शादी हल्दी गीत-

ग्राम-ढिमरापाल, तहसील-तोकापाल, जिला-बस्तर (छत्तीसगढ़) से कुमारी लंकेश्वरी कश्यप, पूजा उगे और अमिसा सोंग हल्बी भाषा में एक गीत सुना रहे हैं, जिसे शादी में हल्दी लगाते समय गया जाता है :
लेहरी-लेहरी बाजे से मोहरी चंपा मगरा चो जोड़ी-
पीतल कसला बाजे-बाजे, ताम कसला बाजे-
दूली चो आया रिसावन दिली से, वाकडा वंडका काजे-
लेहरी-लेहरी बाजे से मोहरी चंपा मगरा चो जोड़ी-

Posted on: Oct 11, 2018. Tags: BASTAR CG HALVI MARRIAGE SAPANA WATTI SONG

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »