स्वास्थ्य स्वर : प्याज के गुण और लाभ-

ग्राम-रहेंगी, पोस्ट-लोरमी, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य चंद्रकांत शर्मा प्याज के गुण और लाभ बता रहे हैं| प्याज वात नाशक होता है, पाचक होता है| प्याज का 10 ml ताजा रस दिन तीन बार लगातार तीन महीने तक सेवन करने से पथरी में लाभ हो सकता है| अधिक जानकारी के लिये संपर्क कर सकते हैं : चंद्रकांत शर्मा@9893327457.

Posted on: Jul 21, 2019. Tags: CG CHANDRAKANT SHARMA HEALTH MUNGELI

स्वास्थ्य स्वर : वात रोग का घरेलू उपचार-

ग्राम-रहेंगी, पोस्ट-लोरमी, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य चंद्रकांत शर्मा वात रोग का घरेलू उपचार बता रहे हैं| निर्गुण्डी 50 ग्राम और कुटज का पाउडर 50 ग्राम दोनों को अलग-अलग रख लें| उसमे बाद आधा-आधा चम्मच पानी के साथ भोजन के बाद 5-5 मिनट के अंतराल में सेवन करना है| लाभ हो सकता है| भोजन में मिर्च, मसाला, तेल, खटाई, गरिष्ठ पदार्थ का सेवन न करें| गर्म पानी का उपयोग करें| अधिक जानकारी के लिये संपर्क कर सकते हैं : चंद्रकांत शर्मा@9893327457.

Posted on: Jul 16, 2019. Tags: CG CHANDRAKANT SHARMA HEALTH MUNGELI

स्वास्थ्य स्वर : हाजमा चूर्ण बनाने का घरेलू तरीका-

ग्राम-रहेंगी, पोस्ट-लोरमी, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य चंद्रकांत शर्मा हाजमा चूर्ण बनाने का घरेलू तरीका बता रहे हैं| त्रिफला आधा पाव, सौंफ 50 ग्राम, जीरा 50 ग्राम, सफ़ेद नमक और काला नमक दो तोला, नौसादक और हींग आवश्यकतानुसार लें| सभी पीसकर चूर्ण बना लें| भोजन के बाद थोड़ा सा चूर्ण सेवन करें| लाभ हो सकता है| गरिष्ठ, मसालेदार भोजन का प्रयोग कम करें| अधिक जानकारी के लिये संपर्क करें : चंद्रकांत शर्मा@9893327457.

Posted on: Jul 15, 2019. Tags: CG CHANDRAKANT SHARMA HEALTH MUNGELI

स्वास्थ्य स्वर : हाजमा चूर्ण बनाने का घरेलू तरीका-

ग्राम-रहेंगी, पोस्ट-लोरमी, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य चंद्रकांत शर्मा हाजमा चूर्ण बनाने का घरेलू तरीका बता रहे हैं| त्रिफला आधा पाव, सौंफ 50 ग्राम, जीरा 50 ग्राम, सफ़ेद नमक और काला नमक दो तोला, नौसादक और हींग आवश्यकतानुसार लें| सभी पीसकर चूर्ण बना लें| भोजन के बाद थोड़ा सा चूर्ण सेवन करें| लाभ हो सकता है| गरिष्ठ, मसालेदार भोजन का प्रयोग कम करें| अधिक जानकारी के लिये संपर्क करें : चंद्रकांत शर्मा@9893327457.

Posted on: Jul 01, 2019. Tags: CG CHANDRAKANT SHARMA HEALTH MUNGELI

स्वास्थ्य स्वर : उपवास रहने के फायदे-

ग्राम-रहेंगी, पोस्ट-लोरमी, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य चंद्रकांत शर्मा उपवास रहने के लाभ बता रहे हैं| हर व्यक्ति को हप्ते में एक दिन उपवास रहना चाहिये| इससे हमारा पेट साफ हो जाता है| जिससे बीमारी होने के अवसर कम हो जाते हैं| उपवास के दिन समय-समय पर पानी, नीबू पानी का सेवन करना चाहिये| उपवास के समय दिन में भोजन नहीं करना चाहिये| रात में दूध और फल का सेवन करना चाहिये| उपवास के बाद हल्का भोजन करें| गरिष्ठ पदार्थो का सेवन न करें| अधिक जानकारी के लिये संपर्क कर सकते हैं : चंद्रकांत शर्मा@9893327457.

Posted on: Jun 29, 2019. Tags: CG CHANDRAKANT SHARMA HEALTH MUNGELI

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download