जिंदगी में कोई चुनौती आये तो उसे मजबूती से सामना करना चाहिये...कहानी

एक बार की बात है| गांव में सूखा पड़ जाता है| सभी गांव वालो की फसल बर्बाद हो जाती है| सभी परेशान हो जाते है | और आपस में चर्चा करने लगते हैं| जरुर हमारे गांव में किसी ने पाप किये होंगे| जो भगवान बदला ले रहा है|” इस तरह कई चर्चा होने लगी| सभी तय करते हैं| चलो भगवान के दर्शन करने चलते हैं| वहां प्रार्थना करते हैं| हो सकता है बारिस हो जाये| और चल पड़े| सब अच्छे से हो जाता है| फिर सभी वापस लौटते हैं| तब उन्हें रास्ते में रात हो जाता है| उनकी गाड़ी घने जंगल से गुजरती है| सभी डरे होते हैं| उनके दिमाग में तरह-तरह के ख्याल आने लगते हैं| एक के बाद एक समस्या होने लगती है | फिर अचानक बारिश होने लगती है| जोर से बिजली कड़कने लगती है| और बार-बार उनके गाड़ी पास बिजली गिरती है| सभी में चर्चा होने लगती है| आज किसी का आखरी दिन है| सभी अपनी सुरक्षा के लिये प्रार्थना करने लगते हैं| उसमे से एक बोलता है| आज किसी एक की मौत तय है| उसे गाड़ी से उतार दिया जाये| तभी हम बच सकते हैं| लेकिन उसकी पहचान कैसे हो| तभी उनमे से एक बोलता है| सभी एक-एक कर गाड़ी से उतरकर सामने के पेड़ को छूकर आयेंगे| जिसकी मौत पक्की होगी| उस पर बिजली गिर जायेगी| सभी एक-एक कर पेड़ को छूकर आने लगे| पहले भुवन, दूसरे में शामू, तीसरे में भीमा जाता है| सभी बच जाते हैं| आखरी बारी नत्थू की होती है| तो उसे लगता है| उसके वजह आज सभी जोखिम में फस गये हैं| और उदास हो जाता है| फिर वह खुद को दोषी मानकर सभी के सुख के प्रार्थना करते हुए| खुद को मौत सौपने के लिये| पेड़ को छूने जाता है| तभी गाड़ी पे बिजली गिर जाती है| और उसके सभी साथी मर जाते हैं| जिससे वह दुखी होता है | और उनके जीवन के लिये प्रार्थना करता है| जिससे सभी फिर जीवित हो जाते हैं, और नत्थू से माफ़ी मांगते हैं|

Posted on: Apr 26, 2019. Tags: ANUPPUR MP RAKESH KUMAR STORY

अपने मजे के लिये किसी को परेशान नहीं करना चाहिये...कहानी-

किसी जादूई देश में परियों की रानी रूही का अलिसान महल था| वह बहुत ही दयालु रानी थी| अपने महल में वे सभी का ध्यान रखती थी| सभी परियां एक दूसरे की मदद करती थी| किसी को परेशान नहीं करती थी| लेकिन उनके बीच एक नटखट और सरारती परी भी थी| जो हमेशा अपनी शरारतो से दूसरो को परेशान करती थी| एक दिन दो परियां बगीचे में पानी दे रही होती हैं| तब नटखट परी तृषा उनके पीछे जाकर चुपके से दोनों की चोटी एक दूसरे की चोटी से बांध देती है| जब दोनों परियां अलग-अलग दिशाओं में जाती हैं| तो उनके बाल खिच जाते हैं| जिससे दोनों रोने लगती है| ये देख तृषा बहोत खुश होती है| तब परियां तृषा पर गुस्सा करती हैं| लेकिन वह ये सब की नगर अंदाज कर चली जाती हैं| तृषा की शरारते दिनों दिन बढ़ती जाती है| एक दिन वह रसोई में मदद के बहाने पूरे खाने में बहुत नमक डाल देती है| जिस पर खाना पकने वाले को डाट पड़ती है| तब सभी तृषा की शिकायत करते हैं| जिस पर रानी परी योजना बनाकर उसे सबक सिखाती है| उसके बाद से तृषा को समझ आ जाता है कि अपने मजे के लिये दूसरो को परेशान नहीं करना चाहिए|

Posted on: Apr 15, 2019. Tags: ANUPPUR MP RAKESH KUMAR STORY

गढ़िहा के बाबा रे, गढ़िहा के बाबा हो...भजन गीत-

ग्राम-छुलकारी, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से मनबहोर केवट अपने साथियों के साथ एक संगीतमय भजन गीत सुना रहे हैं :
गढ़िहा के बाबा रे, गढ़िहा के बाबा हो-
पावन होगे धाम ये गढ़िहा के बाबा हो-
छुलकारी के गढ़िहा मा बिराजे दुर्गा दाई हो-
बिराजे दुर्गा दाई-
पूजा करे आवथे नर-नारी मोर भाई-
जी ये नर नारी मोर भाई...

Posted on: Mar 28, 2019. Tags: ANUPPUR MANBAHOR KEWAT MP SONG

गड़े हवे गढ़िहा मा झुलेना, झुलेना दाई झुलत हो...गीत-

ग्राम-छुलकारी, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से मनबहोर केवट एक संगीतमय गीत सुना रहे हैं :
गड़े हवे गढ़िहा मा झुलेना, झुलेना दाई झुलत हो-
काहे के झुलेना गढ़िहा मा गड़े हे-
काहे के लगे ओमा डोर-
सोन के झुलना गढ़िहा मा गड़े हे-
सोने लगे हवय ओमा डोर, झुलेना दाई गढ़िहा मा गड़े हे...

Posted on: Mar 28, 2019. Tags: ANUPPUR MANBAHOR KEWAT MP SONG

संगवारी रे कैसे बचाबो परान, जंगल के बिना पानी नई बरसही...गीत-

ग्राम-छुलकारी, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से कन्हैयालाल केवट एक गीत सुना रहे हैं:
संगवारी रे कैसे बचाबो परान-
जंगल के बिना पानी नई बरसही-
जंगल नई रही ता पानी नई आही-
कहां पाबो कुटकी धान रे भईया-
कईसे बचाबो परान-
जंगल में मिलही पूटू अउ पिहरी-
सब्जी गजब मिठाथे गा भईया...

Posted on: Mar 25, 2019. Tags: ANUPPUR CG KANHAIYALAL KEWAT SONG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download