बस्तर के हम आदिवासी लोग जंगल के कंदमूल, तेंदू और चार पर बहुत निर्भर रहते है...

पटेलपारा, ग्राम+पंचायत-मूतनपाल, ब्लाक-बास्तानार, जिला-बस्तर छत्तीसगढ़ से बाबूलाल नेटी के साथ गाँव के साथी सरपंच कोशाराम पोयाम बता रहे है कि उनके पंचायत के अंतर्गत बहुत सारा जंगल है | उनके क्षेत्र के आदिवासी भाई बहन लोग जंगल के कंदमूल तेंदू चार और ऐसे बहुत सारे चीजे जंगल से मिलते है और इन्ही कंदमूल को बुजुर्गो ने अपना जीवन यहाँ बिताया है | महुआ से दारू लड्डू और भी सारी चीजे उससे बनती है ऐसा वे बता रहे है | संपर्क नम्बर@9479225065.

Posted on: Oct 14, 2020. Tags: AGRICULTURE

आजादी के पहले से रुकें है, लेकिन अभी तक पट्टा नहीं बना,क्रपया मदद करें...

जिला-रीवा, मध्यपदेश से जगदीश जी के साथ ग्राम-वनगाँव-गोडवाई दलित समाज के प्रजापति और चमार बिरादरी के लोग लगभग 1950 से रह रहें है, जो की आज तक उनका का पट्टा नहीं बना है ,छोटकई, निरासीया,गीता देवी,संगीता,सुखरजिया,घमतिया, ब्रजलाल प्रजापति,कमलेश कुमार प्रजापति,जवाहिरलाल प्रजापति दिनेश चमार,ये बता रहें है,कि आजादी के पहले से बसे हुयें है, लेकिन अभी तक पट्टा नहीं बना है इसलिये साथी सीजीनेट सुनने सभी साथियों से मदद की अपील कर रहें है,दिये गये अधिकारियों के नंबर पर बता कर पट्टा बनवाने मदद करें| कलेक्टर नंबर@9893775673 JP

Posted on: Oct 09, 2020. Tags: AGRICULTURE

खेती के बारे में बता रहें है...

ग्राम पंचायत-छिथापुर, ब्लॉक-लोहंडीगुडा, जिला-बस्तर,(छत्तीसगढ़) से मंगलराम और सुको खेती के बारे में बता रहे हैं कि अभी हम धान जोंधरा लगाये है जिसमे बैल का गोबर खाद डालते है उसके अलवा अन्य किसी भी रसायन खाद का उपयोग नहीं करते है, गाँव के लोग गोबर खाद लगभग पांच साल से उपयोग करते आ रहे हैं| संम्पर्क नंबर@6268216460.

Posted on: Oct 04, 2020. Tags: AGRICULTURE

मैं जय माँ दुगावती समूह के माध्यम से महिलाओ को लोन दिलाकर रोजगार दिलाने का काम करती हूँ...

ग्राम-एरंडवाल, ब्लाक-लोहंडीगुडा, जिला-बस्तर छत्तीसगढ़ से संतकुमार धुर्वे के साथ गाँव की महिला साथी कमलबती तेगढ़ बता रही है कि वे जय माँ दुर्गावती समूह में काम करती है समूह के अंतर्गत वे ब्लांजी प्लास्टर CRF उपज में काम करती है | समूह के लोगो का लिंकेज फॉर्म भरती है वो फॉर्म ब्लाक में जाता है उसके बाद बैंक में जाता है बैंक से लोन निकलवाने के लिए समूह वाली SHG को लेकर जाती है और दस्तावेज करवाती है और लोन पास होने से पैसे निकलवाकर व्यक्तिगत धंधा करते है कुछ लोग साख सब्जी और दूकान चलाते है| वे खुद भी स्टेशनरी का काम करती है और अभी वे पैड वितरण करने वाला करेगी और वो स्वच्छ भारत मिशन अभियान के तहत करेगी और आजीविका विहान स्वसहायता समूह में दो साल से काम कर रही है जो महिलाओ को आगे बढ़ाने काम का करती है |

Posted on: Sep 04, 2020. Tags: AGRICULTURE

हम लोग पेंदा की खेती करते है उसमे पैदावार अच्छी होती है...

ग्राम-तोयनार, पंचायत-तोयनार, ब्लाक-दरभा, जिला-बस्तर (छत्तीसगढ़) से राजू राणा के साथ गाँव के साथी जगरा जो पेंदा खेती के बारे में बता रहे है कि पेंदा खेती के लिए मई-जून के महीनें में सबसे पहलें हम अपनें खेत के आसपास के पेड़ों से लकड़ियाँ काटते है और उसे जमीन में सुखाने के लिए इकठ्ठा करतें है| उसको जला देते है उसके बाद वहां पर गाय बैलो से जोताई करते है | उससे पैदावार अच्छी होती है | उस जमीन में लगातार 4 साल तक खेती कर सकते है | संपर्क नम्बर@7647068097.

Posted on: Aug 26, 2020. Tags: AGRICULTURE

View Older Reports »